Saturday, April 25, 2009

जन्मदिन पर भावुक बनाया 'जेल' की यूनिट ने

कुछ दिनों से मैं करजक में ही हूं। किसी से बात नहीं हो पाती क्योंकि मोबाइल नेटवर्क ठीक नहीं है यहां। इस कारण सुकून भी है। लेकिन,थोड़ी परेशानी भी क्योंकि कहीं न कही मोबाइल फोन अब जीवन का हिस्सा भी बन चुका है।करज़क में एक रिजॉर्ट में रुका हूं। मेरे ठीक सामने वाले कमरे में फिल्म के अहम कलाकार नील नीतिन मुकेश ने अपना पूरा घर बसाया हुआ है। करज़क की खासियत ये है कि मुंबई शहर से थोड़ा सा दूर होने के बावजूद मुंबई की भागमभाग से अलग है।

यातायात की असुविधा के कारण करज़क पहुंचने में दो ढाई घंटे लग जाते हैं। यहां जिस स्टूडियो में काम चल रहा है,वो मेरे रिजॉर्ट से 15 मिनट की दूरी पर है। अमूमन रोल कुछ ऐसा है कि मेरी जरुरत दोपहर के खाने के बाद होती है। सुबह आराम से उठकर मेकअप कराके समय पर जरुरत के मुताबिक पहुंच जाता हूं।

23 अप्रैल को ही मेरा जन्मदिन गुजरा। उसके दिन दिन पहले ही घर जाकर आया था ताकि पत्नी को कहीं जन्मदिन छूटने का अहसास न हो। वैसे, हम दोनों का मानना है कि जन्मदिन के अवसर पर काम करना शुभ होता है। 'जेल' फिल्म की यूनिट ने मुझे उस वक्त आश्चर्यचकित कर दिया, जब मैं काम में व्यस्त था और सभी ने अचानक टेबल सजाकर उस पर मेरे नाम का केक लाकर रख दिया। थोड़ी शर्मिन्दगी हुई क्योंकि जन्मदिन ऐसे मनाना कभी अपने व्यवहार में रहा नहीं है। इतने लोगों ने जन्मदिन का गाना गाया। बधाई दी। केक खाया। काफी भावुक क्षण था। मन ही मन मैं सबको धन्यवाद दे रहा था।

'जेल' का अनुभव अभी तक अच्छा रहा है। भगवान से मैं यही प्रार्थना करता हूं कि आगे भी अच्छा रहे। मेरा अपना मानना है कि फिल्म से ज्यादा अनुभव का अच्छा होना जरुरी है तभी हम अच्छी फिल्म बना सकते हैं। तभी हम अच्छा काम कर सकते हैं।फिल्म के बारे में ज्याद बात नहीं कर सकता। सिर्फ इतना कह सकता हूं कि बहुत ही कम संवाद वाला चरित्र करते हुए, उसके भावों को प्रदर्शित करने में कठिनाई का सामना करते हुए, निर्देशक के सामने अपने आप को पूरी तरह समर्पित करते हुए एक अलग तरह का अनुभव हो रहा है।

मधुर भंडारकर मेरे 14 साल पुराने जान पहचान के हैं। उस वक्त हम दोनों संघर्ष करते थे। मधुर की सफलता से मुझे व्यक्तिगत तौर पर बहुत खुशी होती है। इसलिए जब मधुर ने मुझे इस रोल का प्रस्ताव दिया तो बिना ज्यादा समझे सुने हुए मैंने स्वीकार कर लिया। क्योंकि मधुर के जीवन के किसी क्षण में उसकी सफलता का हिस्सा बनना चाहता था मैं। बाकी सब कुछ मैंने मधुर के ऊपर छोड़ा है,और मैं जानता हूं कि वो न्याय कर पाएगा।

एक दिन का ब्रेक मिला है। मुंबई जाकर फिर लौटूंगा। इस बीच, शूटिंग जारी रहेगी। ब्लॉग पर लिखना भी जारी रहेगा और आशा करता हूं कि जीवन भी जारी रहेगा।

फिलहाल इतना ही
आपका और सिर्फ आपका
मनोज बाजपेयी

15 comments:

Yayaver said...

मनोज जी, जन्मदिन की मुबारक बाद. बहुत दिनों बाद आपका हालचाल सुन के अच्छा लगा. मैं ,एक दर्शक उम्मीद करता हूँ कि आप भविष्य में और अच्छा काम कर सकें.

Umesh Pathak / उमेश पाठक said...

मनोज जी ,आप का इमानदार लेखन अच्छा लगता है! मेहनत और अध्ययन दोनों ही आपके अनुभव में साफ दीखता है,इसके लिए साधुवाद !
-उमेश पाठक ,दिल्ली

इरशाद अली said...

maje aa rahe hai manoj ji kae tu.

''अम्बरीष मिश्रा '' said...
This comment has been removed by the author.
अनिल कान्त : said...

आपको जन्म दिन की ढेर साडी शुभकामनाएं ...आप जीवन में यूँ ही नित नयी नयी ऊँचाइयों को छुएं

मेरी कलम - मेरी अभिव्यक्ति

creativekona said...

आदरणीय मनोज जी ,
देर से ही सही जन्मदिन की हार्दिक शुभकामनायें स्वीकार करें.फिल्मों की व्यस्तता के बावजूद
ब्लॉग के लिए समय निकालना आपका आम लोगों से लगाव का परिचायक है .जेल फिल्म की सफलता की शुभकामनायें .
हेमंत कुमार

प्रवीण जाखड़ said...

जन्मदिन की शुभकामनाएं मनोज भाई! आप और भाभीजी का विचार की जन्मदिन को काम जरूर करना चाहिए, काबिले तारीफ है। एक कलाकार एक जीवन में कई जीवन जीता है। कई रोल प्ले करता है। ...तो कहीं जिंदगी में उतार चढ़ाव ही इतने होते हैं कि किसी रोल प्ले कि जरूरत नहीं होती। जेल के अनुभव बांटते रहें।
निश्चित तौर पर इंटरनेट के संपर्क में और व्यस्तताओं के चलते इन दिनों आप कम लिख पा रहे हैं। लेकिन आपकी पोस्ट का हमें बेसब्री से इंतजार रहता है। आपका जन्मदिन सैलीब्रेट करने वाले सैट के साथियों का भी शुक्रिया।

kaushal said...

आप इसी तरह अपनी भावनाओं को व्यक्त करते रहें । ताकि आपके चाहने वाले हमेशा आपको अपने पास ही पाएं।

नीरज कुमार said...

मनोज ,

आपको ढेर सारी शुभकामनायें...

आपने अनेक बढ़िया फिल्में की हैं जिनमे मेरी पसंदीदा हैं--- अक्स और पिंजर।

आपका जन्मदिन था , बहुत बहुत मुबारक।

मैं समस्तीपुर बिहार से हूँ और दिल्ली में जीवन यापन कर रहा हूँ। छोटी-छोटी कई कवितायें लिखीं हैं मैंने। मेरे ब्लॉग www.kavita-knkayastha.blogspot.com पर उन्हें पढ़े यदि समय उपलब्ध हो कभी तो...

धन्यवाद!

*KHUSHI* said...

Belated Happy Birthday to You... accha kiya ki aapne agale hi din gharwalo se mana liya !!! jaisa apane likha hai to shaayd aap karjat ke pass Nitin Desai ke studio mai shoot kar rahe hai kya?? waise Madhurji ki film hai to acchi hi hogi.. intezaar hai Jail ka...

काजल कुमार Kajal Kumar said...

अँगरेज़ दिखने वाली हिंदी फिल्मों की दुनिया से आपको हिंदी में पढ़ते-लिखते देखना सुहाता है, भाई.
आपकी फिल्म सफल हो, शुभकामनाएं.

Ram-Krishna said...

Dear Manoj Ji,
Belated Happy Birth Day!
Aasha hi nahi apitu purna vishwas hai ki aap jeevan ke pragati path per uttrotar agrasar honge. ...hamesha apni behtar chal-chitra rachnao ke saath!!
Hindi me likhne ke liye bahut bahut sadhubad aap ko!...Kyun ki Hindi hi hamari karm ki bhasha hai, jeevan ki bhasha hai aur hamari rashtra bhasha hai.
Aap ke abhinav chal-chitra ki pratiksha hai.
Dhanyabad!
With best regards,
Dr.rer.nat. RK Thakur
Sr. Scientist/Nano-Technology,
The HongKong University of Sc. & Technology, Hong Kong
ramkrish@ust.hk

shan said...

मनोजजी वोट डाला की बस फिल्मों में एक ही तरह के अभिनय करते रहेगे..कुछ तो नया किजिये

अमित द्विवेदी said...

manoj ji aapko nahee lagta ki aapko bhi ek ipl ki team khareed leni chahiye. dekho aap team khareedo hum sab milkar use cheer karenge.

Afaque Akhtar said...

Happy Belated Birth Day Manoj Bhai...!!

From Act1

Afaque